Labor

डिलीवरी ड्राइवरों का संघर्ष अन्य जगहों पर भी पराधीनता की त्रासदी के ख़िलाफ़ संघर्ष के लिए प्रेरणा है

पूरे पेंडेमिक के दौर में डिलीवरी के काम के उछाल में जिन त्रासद तकलीफ़ों का सामना करना पड़ा, वे पराधीनता की त्रासदी के विरुद्ध वृहत्तर संघर्ष के उत्प्रेरक हो सकते हैं।
पेंडेमिक के दौर में डिलीवरी का काम बहुतेरे कामगारों और छोटे व्यवसायों के लिए जीवन रेखा बन गया।मगर अभी तक केवल बड़े- प्रमुख आपूर्तिकर्ता मंचों ने कामगारों की क़ीमत पर इसका फ़ायदा उठाया है। यदि डिलीवरी ड्राइवर उन परिस्थितियों के विरुद्ध अपना संघर्ष संगठित कर पाते हैं, जो अब "आवश्यक सेवा" बन चुकी है, यह अन्य जगहों के कामगारों के संघर्ष के लिए भी प्रेरणादायक हो सकता है।
पेंडेमिक के दौर में डिलीवरी का काम बहुतेरे कामगारों और छोटे व्यवसायों के लिए जीवन रेखा बन गया।मगर अभी तक केवल बड़े- प्रमुख आपूर्तिकर्ता मंचों ने कामगारों की क़ीमत पर इसका फ़ायदा उठाया है। यदि डिलीवरी ड्राइवर उन परिस्थितियों के विरुद्ध अपना संघर्ष संगठित कर पाते हैं, जो अब "आवश्यक सेवा" बन चुकी है, यह अन्य जगहों के कामगारों के संघर्ष के लिए भी प्रेरणादायक हो सकता है।

जब कोविड-19 का आतंक बरपा हुआ, समूची दुनिया में तमाम तरह की गतिविधियों पर विराम लग गया और साथ ही शहरी आबादी के बड़े हिस्सों के लिए सामाजिक दूरी के उपाय अपनाये जाने की जरूरत पड़ गयी।इसके चलते गतिशीलता के तरीक़ों में परिवर्तन आए और नयी गतिविधियों व काम के अवसर भी बनने शुरू हुए। इन अवसरों में, उत्पाद आपूर्ति में - जो लॉक डाउन और सोशल डिस्टैंसिंग को व्यवस्थित रूप से बनाए रखने और संक्रमण वृद्धि पर लगाम लगाने की दृष्टि से आवश्यक गतिविधि बन गयी है - भारी उछाल देखा गया है । अकेले मैक्सिको में ही, डिलिवरी सेवाओं में, "स्टेटिस्ता" के अनुसार, स्वास्थ्य संकट के चलते 80 % तक की वृद्धि दर्ज की गयी है, जिसका बाज़ार $1,832 मिलयन तक पहुँच चुकने का अनुमान है।

इसी स्वास्थ्य संकट ने दुनिया के पैमाने पर आर्थिक संकट को जन्म दिया है, जिसके चलते बहुत सारे लोग बेरोज़गार हुए हैं और छोटे रेस्तरां जैसे बहुत से व्यवसाय दिवालिया होने के कगार पर पहुँच गए हैं।अर्थव्यवस्था के अन्य क्षेत्रों में अवसरों के अकाल ने डिलिवरी काम को एक फलता फूलता व्यवसाय, और एक ऐसी आधारभूत सेवा बना दिया है जो बहुत से व्यवसायों को ज़िंदा रखे हुए है।

स्मार्ट्फ़ोन ऐप्स ने डिलिवरी ड्राइवर के रूप में रोज़गार हासिल करना अपेक्षाकृत आसान बना दिया है। एक वाहन (जैसे साइकिल या मोटरसाइकिल), इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफार्म (रप्पी, दीदी फ़ूड, ऊबर ईट्स, आदि) तक पहुँच के लिए एक फ़ोन, और कुछ अन्य आधारभूत औपचारिकताओं को पूरा कर लेना ऑर्डर्ज़ लेने और भुगतान प्राप्त करने की शुरुआत के लिए पर्याप्त है। इस आर्थिक संकट के दौर में आमदनी के साधन की तलाश में हज़ारों लोगों ने, इन सेवाओं के लिए खुद को पंजीकृत कराया और बहुत से छोटे रेस्तराँ और व्यवसायों ने उन्हें अपने यहाँ सूचीबद्ध कर के लाभ उठाया।

इसके बावजूद, जिस तरह के कामों का इसके जरिये सृजन हुआ है, वे बेहद अनिश्चित हैं,और उनके नियोजन की शोषणकारी कार्य दशाएँ 19वीं सदी की दशाओं की याद दिलाती हैं। डिलिवरी ड्राइवर अपने उपकरणों का प्रबंध खुद करता है - कइयों को ऐसा करने के लिए कर्ज लेना पड़ता है - उसके पास कोई मेडिकल बीमा भी नहीं होता। कोई समस्या आने पर, जैसे कि कोई दुर्घटना, " कंपनियाँ आमतौर पर ज़िम्मेदारी से बचती हैं ( और उनकी ज़्यादा चिंता बस ऑर्डर लेने की रहती है)" ऐसे में डिलीवरी ड्राइवर, अपने सहकर्मियों, परिवारजनों और मित्रों के साथ, अक्सर मेडिकल ख़र्चों का बोझ उठाने के लिए मजबूर होते हैं। मैक्सिको में प्रति ऑर्डर आमदनी 15 से 30 पीसो ($0.75 से $1.5) और टिप के बीच रहती है, जो उन्हें सड़कों पर बहुत देर तक (विश्राम के लिए किसी न्यूनतम सुविधाजनक स्थान के बिना) काम करते रहने के लिए मजबूर करती है जिससे वे अपनी आधारभूत जरूरतें पूरी कर सकें। यदि उन पर पूरा परिवार निर्भर है, नतीजा अनिवार्य रूप से एक ऐसा जॉब है जो उनकी विपन्नता की गारंटी करता है।

डिलीवरी ड्राइवरों को काम पर लेने वाली कम्पनियाँ उन्हें "पार्टनर", " स्वनियोजित", अथवा " फ़्रीलांसर" कहती हैं जिससे वे उन्हें औपचारिक नियोजन में अंतर्निहित पहचान और सामाजिक कल्याण लाभ देने की ज़िम्मेदारी से बच सकें। जब भी कंपनी को उनसे कोई समस्या होती है, उनको "रेस्ट" पर बैठा देना, ब्लॉक कर देना या ऐप्लिकेशन से डिलीट कर देना पर्याप्त होता है - क्योंकि उनके पास मनमर्ज़ी काम लेने के लिए हज़ारों डिलीवरी ड्राइवर हमेशा ही उपलब्ध हैं। यहाँ तक कि यह उनके हक़ में किसी भी तरह के प्रावधान के सीधे विरोध में भी जा सकता है, जैसा कि संयुक्त राज्य अमेरिका में है। वहाँ कुछ कंपनियों ने मज़दूरों के अधिकारों में व्यवधान डालने के लिए ऐसे किसी भी श्रम की मान्यता के ख़िलाफ़ क़ानून लाये जाने के लिए प्रयास करने में तनिक भी संकोच नहीं किया।

इस बीच, ये कंपनियाँ पेंडेमिक के दौर में, अपने कर्मचारियों को उनके द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरणों के लिए भुगतान नहीं कर के, और उनके काम के जोखिम के लिए स्वास्थ्य व दुर्घटना बीमा नहीं उपलब्ध करा के असाधारण मुनाफ़ा कमा रही हैं। "अकेले उबर ईट्स का व्यवसाय दुनिया भर में 135% बढ़ा है", उसने $8.55 बिलियन का फ़ायदा दिखाया है। हालाँकि मैक्सिको ने इन कंपनियों पर " वैल्यू एडेड टैक्स भुगतान" का दायित्व लगाया है, पर इससे डिलीवरी ड्राइवरों के नियोजन शर्तों- सम्बन्धों पर कोई अंतर नहीं पड़ता।

यह सारा मुनाफ़ा डिलीवरी ड्राइवरों के काम, उनके निवेश, उनके समय, उनके स्वास्थ्य, उनके द्वारा वहन किए जा रहे जोखिम की क़ीमत पर है, और यह बात वे अच्छी तरह से जानते हैं। वे अपनी परिस्थितियों के प्रति पूरी तरह से अवगत हैं, और साथ ही अपनी रणनीतिक रूप से विशिष्ट महत्वपूर्ण अवस्थिति से भी।उन्होंने अपना तेज़ी से विस्तार किया है, अपनी एकजुटता पर आधारित अनौपचारिक नेटवर्कों की व्यापक गोलबंदी की है, और उनका काम इस समय शहरों के लिए आधारभूत रूप से अनिवार्य बन चुका है। यह उन्हें संगठित होने और अपने अधिकारों का दावा करने की ताक़त देता है।

ECLAC के अनुसार, डिलीवरी ड्राइवर अन्य बहुतेरे श्रम अधिकारों के साथ यूनियन संगठित करने और सामूहिक सौदेबाज़ी की स्वतंत्रता, न्यूनतम वेतन, कार्यदिवस सीमा, निष्क्रिय शिफ़्ट (ऑर्डर लेने के इंतज़ार में लगा समय) का भुगतान, न्यूनतम गारंटीकृत कार्य के घंटे, सवैतनिक ब्रेक और सार्वजनिक छुट्टियाँ, पेशागत दुर्घटनाओं, पेशागत बीमारियों और तृतीय पक्ष दायित्व के लिए बीमा ; मेडिकल आच्छादन ; कार्य के दौरान स्वास्थ्य व सुरक्षा ; सुरक्षा उपकरणों की उपलब्धि ; भुगतान में पारदर्शिता ; विवाद समाधान व्यवस्था ; पेशागत प्रशिक्षण जैसे श्रम अधिकार हासिल कर सकते हैं।ये अधिकार उनके और उनके परिवार के लिए एक गौरवपूर्ण जीवन की गारंटी करते हैं।

यही कारण है कि डिलीवरी ड्राइवरों ने अपने संघर्ष में संगठित होना शुरू कर दिया है, यहाँ तक कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी।एक उल्लेखनीय उदाहरण " दुनिया भर के विभिन्न देशों में होने वाली प्रतिरोधी गतिविधियाँ हैं"। इस संघर्ष ने सकारात्मक परिणाम देने शुरू कर दिए हैं, उदाहरण के लिए दक्षिण कोरिया में, " जहां यूनियन बनाने की मान्यता, बेरोज़गारी लाभ, और दुर्घटना कवरेज" के रूप में प्रगति हुई है। इसका एशियाई राष्ट्र में 75,000 डिलीवरी ड्राइवरों को फ़ायदा पहुँच सकता है।

मैक्सिको में, "दि इंडिपेंडेंट यूनियन ओफ़ डिस्ट्रीब्यूटर्स बाई ऐप्लिकेशन" ( सिंडिकाटो इंडेपेंदिएँटे दे रेपार्तिडोरेस पोर अप्लिकासियों - SIRAPPS)की स्थापना की जा रही है।

एक यूनियन के रूप में अपनी मान्यता की माँग के अतिरिक्त, इसकी दिशा और दृष्टि डिलीवरी ड्राइवरों के लिए सामूहिक सौदेबाज़ी और सामाजिक सुरक्षा- संरक्षा हासिल करने की है।श्रम का यूनियनों के रूप में गोलबंद होना, और अन्य क्षेत्रों के श्रमिकों के साथ गठबंधन बनाना खुद डिलीवरी कामगारों के हित में अनिवार्य है, जैसा कि " इंडिपेंडेंट वर्कर्स यूनियन ऑफ़ ग्रेट ब्रिटेन" ने दिखाया है।यह यूनियन तमाम कामगारों, जैसे आउटसोर्स क्लीनर्स, सुरक्षा गार्डों, पालन सेवा ( फ़ॉस्टर केयर) कर्मियों, और कुरियरों व निजी नियोजित ड्राइवरों जैसे गिग वर्कर्स को एक मंच पर एकजुट करती है।

निश्चित रूप से, डिलिवरी ड्राइवरों को वर्कर के रूप में मान्यता के लिए, उनके अधिकारों की गारंटी के लिए, और समाज से आवश्यक सेवाओं की अनिश्चितता और त्रासद स्थिति के हमेशा-हमेशा के लिए अंत की दिशा में श्रम क़ानूनों में परिवर्तन ज़रूरी है। एक ऐसा परिवर्तन, जो राज्य को इस दिशा में दबाव देता हो जिससे डिलीवरी ड्राइवरों को उनके अपने श्रम के फल की गारंटी हो सके, और केवल चंद लोगों का फ़ायदा न होता हो।आइए, उनके संघर्ष को हर जगह पराधीनता और अनिश्चितता के ख़िलाफ़ कामगारों के संघर्ष की मिसाल और प्रेरणा बन जाने दें।

फ़ोटो : Brett Jordan / Unsplash

Help us build the Wire

The Wire is the only planetary network of progressive publications and grassroots perspectives.

Since our launch in May 2020, the Wire has amplified over 100 articles from leading progressive publications around the world, translating each into at least six languages — bringing the struggles of the indigenous peoples of the Amazon, Palestinians in Gaza, feminists in Senegal, and more to a global audience.

With over 150 translators and a growing editorial team, we rely on our contributors to keep spreading these stories from grassroots struggles and to be a wire service for the world's progressive forces.

Help us build this mission. Donate to the Wire.

Support
Available in
EnglishSpanishGermanFrenchPortuguese (Portugal)Italian (Standard)Portuguese (Brazil)Hindi
Author
Salvador Medina Ramírez
Translators
Vinod Kumar Singh and Nivedita Dwivedi
Date
06.05.2021

More in Labor

Labor

Geoff Tily: The Grip of Brotherhood the World O'er

Labor

Delivery drivers’ struggles are an inspiration to fight against precariousness everywhere

Receive the Progressive International briefing
Privacy PolicyManage CookiesContribution Settings
Site and identity: Common Knowledge & Robbie Blundell